Garbh mein palne wale bache ke baare mein 9 romanchak baatein – गर्भ में पलने वाले बच्‍चे के बारे में 9 रोमांचक बातें

Garbh mein palne wale bache ke baare mein 9 romanchak baatein – गर्भ में पलने वाले बच्‍चे के बारे में 9 रोमांचक बातें

गर्भवती मां (Pregnant Mother) को यह जानने की बहुत उत्‍सुकता रहती है कि उसके बच्‍चे का विकास उसके ही शरीर के भीतर किस प्रकार होता है। गर्भावस्‍था के दौरान अल्‍ट्रासाउंड (Ultrasound) के बारे में जाने कुछ खास बातें इसलिए वह समय-समय पर जाकर डॉक्‍टर से भी इस बारे में परामर्श लेती रहती हैं। जब मां के गर्भ में बच्‍चा पल रहा होता है तो हर दिन उसके शरीर में एक आश्‍चर्यजनक विकास (Growth) होता है जिसके बारे में जानकर बड़ा आश्‍चर्य लगता है। गर्भावस्था के दौरान उल्टी होने से बचाएंगे यह खाद्य पदार्थ हर हफ्ते के बाद बच्‍चे के शरीर में एक नए अंग का विकास होता है। आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि हर हफ्ते और हर दिन के विकास के दौरान बच्‍चे के शरीर में शरीर में क्‍या-क्‍य आश्‍चर्यजनक परिवर्तन होते हैं।

  1. आंखों और कान का विकास गर्भावस्‍था के 8वें महीने के दौरान बच्‍चे के शरीर में सबसे पहले आंखों और कान का विकास होता है, इस अवस्‍था तक हल्‍का सा चेहरा भी बन जाता है।

  1. बाहरी जननांग जी हां, गर्भावस्‍था के 9 वें हफ्ते में बच्‍चे के जननांग (Testicles) बनने लगते हैं। 12 से 13 हफ्ते तक आसानी से पता लगाया जा सकता है कि गर्भ में पलने वाला बच्‍चा लड़‍की है या लड़का।

  1. पूरा शरीर बनना गर्भावस्‍था के 12वें हफ्ते तक गर्भाशय में बच्‍चे का शरीर पूरा रूप ले लेता है। इस दौरान इसके शरीर क लम्‍बाई 5 सेमी. होती है। आंखें, नाक, कान, एड़ी और नाखून भी बन जाते हैं।

  1. जन्‍म के समय से आधी लम्‍बाई का होना गर्भ में 20 वें हफ्ते के दौरान बच्‍चे के शरीर की लम्‍बाई जन्‍म के समय होने वाली लम्‍बाई से ठीक आधी होती है। यानि लगभग बच्‍चा 18 सेमी. का हो जाता है। इस समय पर बच्‍चे की भौं और पलकें (Eye Brows) बनने लगती हैं।

  1. सुनने की क्षमता 24 वें हफ्ते के बाद बच्‍चे में सुनने की क्षमता (Hearing Power) का विकास होने लगता है। इस दौरान बच्‍चे का चेहरा और बाकी के अंग विकसित होते हैं। इस दौरान चेहरे की त्‍वचा बहुत पतली होती है।

  1. सूंघने की क्षमता 28 वें सप्‍ताह में बच्‍चे की सूंघने (Smelling) वाली क्षमता का विकास भी इसी चरण में होता है।

  1. आंखें खुलना 32 वें सप्‍ताह के दौरान बच्‍चे की आंखें गर्भ में ही खुलने लगती हैं। इसी दौरान बच्‍चे की गर्भ में स्थिति भी बदलती है। इस समय बच्‍चे की भुजाएं और जांघों का विकास होता है जिस वजह से मां को काफी परेशानी होती है। बच्‍चे का शरीर भी 44 से 55 सेमी. तक हो जाता है।

  1. स्‍वस्‍थ 40 वें सप्‍ताह के दौरान बच्‍चा शरीर में पूरी तरह विकसित हो जाता है। यह गर्भावस्‍था का पूर्ण चरण होता है।

  1. वजन (Weight) गर्भावस्‍था के पूरे चरण के दौरान बच्‍चे का वजन 2 से 3 किलो होता है। कई बच्‍चे तो 3 से 5 किलो के भी पैदा होते हैं। ऐसे बच्‍चे स्‍वस्‍थ (Healthy Babies) श्रेणी में गिने जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *