Israel Facts in Hindi, आखिर ISIS क्यों डरता है इजराइल से

Israel Facts in Hindi, आखिर ISIS क्यों डरता है इजराइल से

पूरी दुनियां को हिला देने वाला ISIS आखिर क्यों डरता हैं इजराइल – israel से, इजराइल – israel में ऐसा क्या है जो दुनियां के बड़े बड़े देश और खूंखार आतंकवादी संगठन भी इससे खौफ खाते हैं? इन्ही सब सवालों जवाब जानते है इस पोस्ट में :

इजरायल – israel चारों तरफ से दुश्मनों से घिरा हुआ देश है, पर कोई नजर उठाकर भी देखे, तो आंखें नोचने की ताकत रखता है इजरायल – israel। इजरायल – israel एक ऐसा छोटा सा देश है जिसकी जनसंख्या 80 लाख के आस-पास है, पर 150 करोड़ से अधिक आबादी वाले 56 मुस्लिम देश इजराइल – israel से खौफ खाते हैं। इजराइल – israel ऐसा देश है जिसका नक्शा आप देखें, चारों ओर से मुस्लिम देशों से घिरा हुआ है फिर भी किसी मुस्लिम देश, या ISIS की मजाल नहीं की इजरायल – israel को छेड़ सके। आखिर ऐसा क्या है इजरायल – israel के पास के ISIS भी उससे डरता है। आइए बताते है क्या है इजरायल – israel की ताकत।

Modern Beautiful and Stylish Black Flower and Leaf Design Double Finger Ring for Women and Girls

Modern Beautiful and Stylish Blue Round Shape Flower and Leaf Design Double Finger Ring for Women and Girls

Interesting facts about Israel and Mosad in Hindi : 

  1. मिशिगन झील का आधा

इजरायल – israel पूरे मिडिल ईस्ट की जमीन के 1/6 हिस्से का भी महज 1 प्रतिशत है। इजरायल – israel की जनसंख्या न्यूयॉर्क की आधी जनसंख्या के बराबर है। और भूखंड के मामले में मिशिगन झील का आधा।

  1. दुनिया में चौथे नंबर की वायुसेना – Army

इजरायल – israel की वायुसेना – Army  दुनिया में चौथे नंबर की वायुसेना – Army  है। सिर्फ अमेरिका, रूस और चीन ही उससे आगे है। इजरायली वायुसैनिक बेड़े में 250 एफ-16 फाइटर प्लेन हैं, जो किसी भी हमले की सूरत में न सिर्फ जवाब देने में सक्षण हैं, बल्कि किसी भी दुश्मन को पल भल में तहस नहस करने की क्षमता – Capacity  रखते हैं। कई युद्धों में दुनिया इनका जौहर देख चुकी है।

  1. एंटी बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस

इजरायल – israel दुनिया का इकलौता ऐसा देश है, जो समूचा एंटी बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस है। इजरायल – israel के किसी भी हिस्से में रॉकेट दागने का मतलब है मौत। इजरायल – israel की ओर जाने वाला हर मिसाइल रास्ते में ही दम तोड़ देता है।

Modern Gold Plated Metal Zircon and Pearl Bangles for Women and Girls

Necklace Crafted with Black Glass Beads with Earrings Heavy Design Golden

  1. अपना सेटेलाइट सिस्टम

इजरायल – israel दुनिया में उन 9 देशों में शामिल है, जिसके पास अपना सेटेलाइट सिस्टम है। जिसके इस्तेमाल से वो ड्रोन चलाता है। इजरायल – israel अपने सेटेलाइट सिस्टम किसी के साथ साझा नहीं करता।

  1. गोरिल्ला युद्ध से खौफ खाता है आईएसआईएस

खोजी पत्रकार (जुर्गेन टुडेन हॉफर) ने बताया है कि आईएसआईएस के आतंकियों को अमरीकी और ब्रिटिश सैनिकों से लड़ने में कोई डर नहीं लगता। उनका मानना है कि आईएसआईएस जमीनी लड़ाई में अमरीकियों और ब्रिटिश सैनिकों को पस्त करना कोई बड़ी बात नहीं मानता है, लेकिन इजरायल – israel के सैन्य कमांडों से गोरिल्ला युद्ध करना आसान नहीं कहता है।

  1. आईएसआईएस के लिए असली खतरा इजरायल – israel के कमांडों

आईएसआईएस के लिए असली खतरा इजरायल – israel के कमांडो हैं, और इसीलिए आईएसआईएस ने अभी तक इजरायल – israel की राजधानी येरूसलम पर अब तक उसने नजर नहीं उठाई है। हालांकि आईएसआईएस के खलीफा बगदादी इजरायल – israel और यहूदियों को अपना बड़ा दुश्मन मानते है। इसके साथ अपने प्रचार में इजरायल – israel पर हमले की बात भी करते हैं। लेकिन अब तक की रणनीति में बगदादी ने इजरायल – israel पर कोई हमला नहीं बोला है।

Necklace Crafted with Glass Beads with Earrings Heavy Design Golden

Necklace Crafted with Grey Glass Beads with Earrings Heavy Design Grey and Golden

  1. इजरायल – israel को दुश्मन मानता है आईएसआईएस

ISIS पुरे अरब में आतंक मचाये हुए है, लोगों का कत्लेआम कर रहा है, पर अब तक इजराइल – israel की तरफ एक गोली भी नहीं चलाई है, जबकि इजराइल – israel सीरिया का पडोसी ही देश है, एक भी इजराइल – israel के नागरिक को छुआ भी नहीं, क्योंकि उनको पता है जहां इजराइल – israel को थोडा भी छेड़ा तो इजराइल – israel की ओर से मिसाइल दाग दिया जायेगा या इजरायली सेना – Army  चढ़ाई कर देगी।

  1. इजरायल – israel का ये रुतबा यूं ही नहीं बना है…!!

जब हिटलर से जान बचाकर यहूदी लोग इजराइल – israel पहुचे थे और इजराइल – israel बनाया था, अरब के मुस्लिमों ने पहली बार इजराइल – israel पर 1948 में हमला किया था, उस समय बस इजराइल – israel बना ही था, उसके पास कोई बड़ी सेना – Army  या धन गोला बारूद नहीं था, परंतु फिर भी इजराइल – israel ने अरब को 1948 में बड़े आसानी से हरा दिया तब से लेकर अब तक अरब देशों ने 6 बार इजराइल – israel से युद्ध लड़े हैं और इजराइल – israel ने हर बार मुस्लिम देशों को हराया है। अगर आंकड़ों की बात करें तो 1948 से अब तक अरब-इजराइल – israel युद्धों में इजराइल – israel के 22000 सैनिक शहीद हुए हैं वहीं मुस्लिम देशों के 91000 से अधिक।

  1. इजरायल – israel की ताकत

इजराइल – israel खुद पहले हमला नहीं करता, बस उसको कोई छेड़े तो इजराइल – israel उसे छोड़ता नहीं। इजराइल – israel की मोसाद का तो ऐसा खौफ है की मोसाद के डर से किसी आतंकी संगठन के मुखिया या किसी मुस्लिम देश के नेता इजराइल – israel की तरफ आंख उठाके देख भी नहीं सकते। म्युनिक ओलिंपिक में जिहादी तत्वों ने इजराइल – israel के खिलाडियों की जर्मनी में हत्या कर दी थी और वो जिहादी तत्व किसी मुस्लिम देश में जा छुपे थे, जिनकी संख्या सैंकड़ो में थी इजराइल – israel की मोसाद के 30 जवान उस मुस्लिम देश में घुसकर उन जिहादियों को मार आये थे। इजराइल – israel की मोसाद का सिर्फ एक जवान शहीद हुआ था।

Necklace Crafted with Pearls and Glass Beads with Earrings

Royal Classic Pearl Mala with Gold Charms for Women and Girls

Royal Classy and Elegant Gold Plated and Zircon Finger Ring for Women and Girls

  1. क्या है मोसाद

मोसाद का मतलब मौत। एक बार जो मोसाद की निगाह में चढ़ गया, उसका बचना मुश्किल है। मोसाद के खूंखार एजेंट उसे दुनिया के किसी भी कोने से ढूंढ निकालने का दमख़म रखते हैं। यही वजह है, कि इजरायल – israel की इस खुफिया एजेंसी को दुनिया की सबसे ख़तरनाक एजेंसी कहा जाता है। मोसाद की पहुंच हर उस जगह तक है जहां इजरायल – israel या इजरायल – israel के नागरिकों के खिलाफ कोई भी साजिश रची जा रही हो। मोसाद का इतिहास 63 साल पुराना है। मोसाद का हैडक्वार्टर इजराइल – israel के तेल अवीब शहर में है। मोसाद यानी इंस्टीट्यूट फॉर इंटेलीजेंस एंड स्पेशल ऑपरेशन इजरायल – israel की नेशनल इंटेलीजेंस एजेंसी।

  1. दुनिया की चौथी बड़ी सेनाओं – Army में से एक

इजरायली सेना – Army  दुनिया की चौथी बड़ी सेना – Army ओं में से एक है। इसके साथ ही वहां पर पुलिस के जवानों को भी विशेष ट्रेनिंग दी जाती है। इसके साथ ही इस्राइल का सिक्यूहरिटी सिस्टम भी बेहद मज़बूत और अचूक है।इस्राइल आतंकवाद की निंदा करता है और उसके खात्में के लिए वह भी प्रयासरत है,सबसे खास बात इस्राइल की सेना – Army  जिन सात खास मंत्रों को फॉलो करती है उसमें से एक है किसी भी वॉर में ऐसी मजबूत रणनीति के साथ उतरना कि कम से कम नुकसान हो।

,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *